Wednesday, June 23, 2021
Google search engine
HomeEntertainmentदिलीप कुमार-राज कपूर का पुश्तैनी घर म्यूजियम में होगा तब्दील, पाक सरकार...

दिलीप कुमार-राज कपूर का पुश्तैनी घर म्यूजियम में होगा तब्दील, पाक सरकार ने जारी किए 2.30 करोड़ रुपए


राज कपूर-दिलीप कुमार. फाइल फोटो

पाकिस्तान स्थित खैबर पख्तूनख्वा सूबे की सरकार ने राज कपूर (Raj Kapoor) और दिलीप कुमार (Dilip Kumar) की पेशावर में मौजूद पुश्तैनी हवेलियों को खरीद उन्हें संग्रहालय में तब्दील करने के लिए 2.30 करोड़ रुपये आवंटित (Pakistan’s KPK govt releases Rs 2.30 crore) किए हैं. यह राशि पुरातत्व विभाग ने पेशावर के उपायुक्त को सौंपी है.

मुंबई. लंबे समय से चल रही जद्दोजहद के बाद अब पाकिस्तान (Pakistan) में बॉलीवुड के दिग्गज एक्टर राज कपूर (Raj Kapoor) और दिलीप कुमार (Dilip Kumar) के पुश्तैनी घरों को संरक्षित करने का रास्ता साफ हो गया है. पाकिस्तान स्थित खैबर पख्तूनख्वा सूबे की सरकार ने राज कपूर और दिलीप कुमार की पेशावर में मौजूद पुश्तैनी हवेलियों को खरीद उन्हें संग्रहालय में तब्दील करने के लिए 2.30 करोड़ रुपये आवंटित (Pakistan’s KPK govt releases Rs 2.30 crore) किए हैं. यह राशि पुरातत्व विभाग ने पेशावर के उपायुक्त को सौंपी है. यह कदम दोनों हवेलियों के मौजूदा मालिकों को खरीद के लिए अंतिम नोटिस जारी करने के बाद उठाया गया. खैबर पख्तूनख्वा के पुरातत्व निदेशक अब्दुस समद ने कहा कि सरकार दोनों घरों का कब्जा लेगी और ढांचे को उनके पुराने स्वरूप में बहाल करने का कार्य शुरू करेगी. उन्होंने कहा कि सरकार दोनों इमारतों को संरक्षित करेगी ताकि लोग फिल्म उद्योग में दिलीप कुमार और राज कपूर के योगदान के बारे में जान सके. खैबर पख्तूनख्वा की सरकार ने 6.25 मरला में निर्मित राज कपूर के घर और चार मरला में बने दिलीप कुमार के घर के लिए क्रमश: 1.50 करोड़ रुपये और 80 लाख रुपये कीमत तय की है. आपको बता दें कि मरला भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश में जमीन की पैमाइश का पुराना पैमाना है और एक मरला 272.25 वर्ग फुट के बराबर होता है.राज राज कपूर की हवेली के मौजूदा मालिक अली कादिर ने 20 करोड़ रुपये देने की मांग की है जबकि दिलीप के घर के मौजूदा मालिक गुल रहमान मोहम्मद ने कहा कि सरकार को बाजार की कीमत 3.50 करोड़ रुपये में यह मकान खरीदना चाहिए. गौरतलब है कि राजकपूर का पैतृक निवास पेशावर के किस्सा ख्वानी बाजार में है, जिसका निर्माण उनके दादा दीवान बश्वेश्वरनाथ कपूर ने वर्ष 1918 से 1922 के बीच कराया था. दिलीप कुमार का पुश्तैनी मकान भी इसी इलाके में है.









Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments